जिस्मफरोशी,गैंगरेप का दर्द और बनी ब्लू फिल्म

| |

फरीदाबाद: यह एक कहानी नही बल्कि सच्चाई है के एक 12 साल की बच्ची जिसको शादी का झांसा देकर पहले तो एक युवक अपने साथ भगा लाया। फिर उससे आठ साल तक वेश्यावृत्ति कराता रहा। चार साथियों ने भी उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़ित ने राष्ट्रीय महिला आयोग में गुहार लगाई। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। उसके बाकी साथियों की तलाश की जा रही है।

यूपी के बदायूं जिले के गांव राजपुरा निवासी एक 20 वर्षीय युवती ने एनआईटी थाने में दी शिकायत में कहा कि जब वह 12 साल की थी वर्ष 2003 में अपने परिवार के साथ भीकम कॉलोनी बल्लभगढ़ में किराए पर रहती थी। सेक्टर-21डी निवासी विजय उर्फ लंबू से उसके पिता की दोस्ती हो गई और विजय उसके पिता को शराब पिलाने लगा। वर्ष 2004 में विजय उसको शादी का झांसा देकर बल्लभगढ़ एक गोदाम में ले गया।

सात दिनों तक उसके साथ बलात्कार किया। उसके बाद उसे घर छोड़ दिया। आरोप है कि दो महीने बाद विजय उर्फ लम्बू उसे बल्लभगढ़ एक कमरे में ले गया जहां बड़ौली निवासी राकेश ने उनके साथ दुष्कर्म किया। कुछ दिन बाद विजय व उसके दोस्तों मनोज,धर्मेंद्र तथा राकेश ने उसके साथ रेप किया।

आरोप है कि विजय ने अपने मोबाइल में उसकी अश्लील फोटो भी खींचे। फिर वह मां -बाप के साथ राजपुर चली गई। तीन महीने बाद वह दिल्ली में रहने लगी, इसी बीच विजय ने उसे तलाश लिया और अपने साथ फरीदाबाद ले गया। आरोप है कि फिर विजय उससे वेश्यावृत्ति कराने लगा। हर छह माह में वह मकान बदलता रहता था।

युवती ने विजय के चंगुल से मुक्ति दिलाने के लिए राष्ट्रीय महिला आयोग में शिकायत की थी। युवती ने बताया कि दो महीने पहले विजय उससे इंद्रा इनक्लेव सेक्टर-21डी में किराए पर मकान लेकर वेश्यावृति कराने लगा। 23 नवंबर को वह परेशान होकर अपने परिवार के साथ दिल्ली के गोबिंद पुरी चली गई लेकिन विजय उसे धमकी देता रहता था।पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर विजय को गिरफ्तार कर लिया है।

News Gathered by India News

Posted by on Thursday, February 22nd, 2018. Filed under India News. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can leave a response or trackback to this entry

Leave a Reply